होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

कांग्रेस के पूर्व प्रत्याशी गोरेलाल बर्मन ने थामा जेसीसीजे का दामन

रायपुर.

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में दल बादल का सिलसिला जारी है। बीजेपी-कांग्रेस से टिकट न मिल पाने से नाराज विधायक दूसरी पार्टियों का दामन थाम रहे हैं, तो कुछ विधायक बागी होकर निदर्लीय चुनाव लड़ने के लिए नामांक फार्म भी खरीद लिए हैं। इसी क्रम में आज 27 अक्टूबर को पामगढ़ विधानसभा के पूर्व कांग्रेस प्रत्याशी गोरेलाल बर्मन ने जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जोगी पार्टी का दामन थामा है। अमित जोगी ने उन्हें पार्टी का गमछा पहनाकर पार्टी में प्रवेश कराया है।

कांग्रेस पार्टी ने इस बार पामगढ़ से बर्मन का टिकट काट दी है। इससे बाद नाराज होकर वे जोगी कांग्रेस में प्रवेश कर लिया है। 2018 विधानसभा चुनाव में पामगढ़ प्रत्याशी गोरेलाल बर्मन को हर का सामना करना पड़ा था। इस विधानसभा में बसपा के उम्मीदवार इंदु बंजारे ने परचम लहराई थी। जनता कांग्रेस में प्रवेश के बाद गोरेलाल बर्मन को पामगढ़ से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जोगी अभी तक 90 सीटों में उम्मीदवार नहीं उतरे हैं। ऐसे में पामगढ़ से गोरेलाल बर्मन को प्रत्याशी के रूप में उतार सकते हैं। फिलहाल यह जेसीसीजे के लिस्ट आने पर ही पता चलेगा। इससे पहले भी 26 अक्टूबर को कांग्रेस और जेसीसीजे को तगड़ा झटका लगा। बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा ने कांग्रेस का दामन थामा, तो वहीं दूसरी ओर महासमुंद जिले की सरायपाली सीट से कांग्रेस विधायक किस्मत लाल नंद जोगी कांग्रेस ज्वॉइनिंग कर ली। वो जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जोगी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे।

इस बार कांग्रेस ने विधायक नंद की टिकट काट दी है। इसके बाद वो नाराज चल रहे थे। जोगी कांग्रेस में गुरुवार को प्रवेश कर लिया। अमित जोगी ने उन्हें पार्टी का गमछा पहनाकर पार्टी में प्रवेश कराया। उन्हें सरायपाली से टिकट देने की घोषणा की है। दूसरी ओर बलौदाबाजार से जेसीसीजे विधायक प्रमोद शर्मा सीएम भूपेश बघेल की मौजूदगी में अपने सैकड़ों कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ गमछा पहनकर कांग्रेस में शामिल हुए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन्हें कांग्रेस का गमछा पहनाकर पार्टी में प्रवेश कराया। इस दौरान प्रमोद शर्मा ने कहा कि घर वापसी पर बहुत अच्छा लग रहा है। सीएम भूपेश ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा ने 15 सालों से सभी को ठगा है।

पूर्व सीएम अजीत जोगी के निधन के बाद प्रमोद शर्मा ने अमित जोगी के साथ मतभेदों के चलते जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ पार्टी से इस्तीफा दे दिया था, तब से उनके कांग्रेस में शामिल होने की अटकले लग रही थी। आखिरकार उन्होंने कांग्रेस का हाथ थाम लिया। जेसीसीजे ने विधायक धरमजीत सिंह और विधायक प्रमोद शर्मा को पार्टी ने निलंबित कर दिया था। गृहमंत्री अमित शाह की मौजूदगी में धरमजीत सिंह बीजेपी में शामिल हो गए। भाजपा ने उन्हें लोरमी की जगह तखतपुर से टिकट दिया है।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!