होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

कजाकिस्तान में खदान में लगी आग 21 लोगों की मौत, सरकार ने लिया बड़ा फैसला

अल्माटी
 कजाकिस्तान में एक खदान में शनिवार को लगी भीषण आग में 21 लोगों की मौत हो गई है। यह कंपनी लक्जमबर्ग स्थित इस्पात निर्माता की स्थानीय इकाई, जो खदान का संचालन करती है। कंपनी ने एक बयान में कहा, "कोस्टेनको खदान में मौजूद 252 लोगों में से 208 को निकाल लिया गया है और 18 लोग गंभीर रूप से घायल हैं, जिन्हें इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

23 लोगों का नहीं लगा पता

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, दोपहर 12 बजे तक करीब 23 लोगों का पता नहीं चल पाया था। कजाख राष्ट्रपति कासिम-जोमार्ट टोकायव ने पीड़ितों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने अपने मंत्रिमंडल को आर्सेलर मित्तल तेमिरताउ के साथ निवेश सहयोग बंद करने का आदेश दिया। सरकार ने एक बयान में कहा कि वह देश की सबसे बड़ी स्टील मिल संचालित करने वाली कंपनी का राष्ट्रीयकरण करने के लिए एक सौदे को अंतिम रूप दे रही है।

निवेशकों से ही रही बातचीत

पिछले महीने प्रथम उप प्रधानमंत्री रोमन स्काईलार ने मीडिया से कहा था कि कजाकिस्तान संभावित निवेशकों के साथ बातचीत कर रहा है, जो मिल को टेक ओवर कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि कैबिनेट कई घातक दुर्घटनाओं के बाद अपने निवेश दायित्वों को पूरा करने, उपकरणों को अपग्रेड करने और श्रमिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में आर्सेलर मित्तल की विफलता से बेहद नाराज है।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!