होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

शाह ने शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण

भोपाल

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव की पिच पर करीब एक महीने बाद गृह मंत्री अतिम शाह आज उतर गए हैं। वे आज से तीन दिन तक उन चुनिंदा नेताओं को टिप्स देंगे जो बीजेपी को फिर से मध्य प्रदेश में सत्ता की ट्रॉफी दिलाने में सफल हो सकें। प्रदेश में पहली बार यह प्रयोग हो रहा है, जब कोई केंद्रीय नेता, प्रदेश की 230  विधानसभा सीटों की अलग-अलग समीक्षा करने के लिए विशेष रूप से आए हों।

समीक्षा के दौरान कमजोर सीट और जहां पर पार्टी से बागी होकर नामांकन भर चुके नेताओं से लड़ते हुए चुनाव जीतने के टिप्स अमित शाह देंगे। शाह सुबह जबलपुर पहुंचे। यहां पर सबसे पहले उन्होंने आदिवासी वोट बैंक को साधने का काम किया। वे शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे। इसके बाद संभागीय कार्यालय पहुंचे। जहां पर उन्होंने जबलपुर सभांग के  हर विधानसभा क्षेत्र की समीक्षा की। इस सभी जिलों से विधानसभा प्रभारी, सह प्रभारी और चुनिंदा नेताओं को बुलाया था। उनके साथ प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष वीडी शर्मा भी रहेंगे। करीब 250 लोगों की बैठक अमित शाह ने ली। जिसमें हर सीट पर जीत के लिए टिप्स देंगे। इसके बाद अमित शाह छिंदवाड़ा जिले के जुन्नारदेव में सभा को संबोधित करने के लिए जाएंगे।

शक्ति सम्मेलन का लेंगे फीडबैक
शाह 17, 18 और 19 अक्टूबर को आयोजित किए गए शक्ति सम्मेलन का फीडबैक भी लेंगे। इन सम्मेलनों में बूथ समिति और पन्ना प्रमुखों को चुनाव पूर्व प्रशिक्षण दिया गया था। मतदाता सूची, लाभार्थी सूची, 80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं की सूची, नवमतदाता, दिव्यांग मतदाताओं की सूची और इनसे संबंधित सवाल-जवाब भी शाह करेंगे।

शाम को भोपाल-नर्मदापुरम की समीक्षा
शाह शाम को भाजपा के प्रदेश दफ्तर में भोपाल और नर्मदापुरम संभाग की हर सीट की समीक्षा करेंगे। उनके बैठक में करीब 250 नेता और विधानसभा प्रभारी, सह प्रभारी के साथ प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और अन्य नेता रहेंगे। दरअसल मध्य क्षेत्र के ये दोनों संभाग भाजपा का गढ़ माने जाते हैं। इसलिए इस गढ़ को बनाए रखने के लिए शाह टिप्स देंगे। वहीं भोपाल मध्य, भोपाल उत्तर जैसी कांग्रेस की सीटों पर उसे हराने के टिप्स देंगे।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!