होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

इस पूरे वर्ष मैंने जितने भी रन बनाए, उनसे कहीं अच्छे मेरे ये 4 रन थे: तबरेज़ शम्सी

चेन्नई.
पाकिस्तान के खिलाफ पहले गेंद और फिर आखिरी में अपने बल्ले से महत्वपूर्ण छोटी से पारी खेल अपनी टीम को मैच जीताने वाले दक्षिण अफ्रीका के स्पिन गेंदबाज तबरेज़ शम्सी ने खेल को बेहतर बनाने का श्रेय अपनी टीम के साथियों को दिया। तबरेज़ ने मैच में पहले महत्वपूर्ण 4 विकेट लिए और उसके बाद केशव महाराज के साथ मिलकर 11 रन की अटूट साझेदारी कर टीम को जीत दिला दी। शम्सी ने 4 रनों की नाबाद पारी खेली।

मैच के बाद शम्सी ने कहा कि उनके नाबाद चार रन संभवतः इस पूरे वर्ष में उन्होंने जितने भी रन बनाए, उनसे कहीं अच्छे हैं और ये सही समय पर आए। शम्सी ने कहा, कभी-कभी यह आपके लिए सही होता है, कभी-कभी ऐसा नहीं होता। मैं टीम को जीत दिलाने में मदद करने में सक्षम होने से खुश था, लेकिन मैंने नहीं सोचा था कि मैं अपने बल्ले के साथ ऐसा कर पाऊंगा।

लक्ष्य का पीछा करने के दबाव को झेलने के मामले में, शम्सी ने वह लड़ाई दिखाई जिसकी उनकी टीम को आवश्यकता थी, और कहा कि ऐसे कठिन मैचों को जीताना वास्तव में अच्छा लगता है। उन्होंने कहा, ये ऐसे क्षण हैं जिनके लिए आप प्रशिक्षण लेते हैं, आप बड़ा मंच चाहते हैं। केश वहां अविश्वसनीय था, और लुंगी [एनगिडी] भी उससे पहले था। अगर मैंने तब कोई बड़ा शॉट खेलने की कोशिश की और वह नहीं आया, तो लड़के मुझे चेंज-रूम में वापस स्वागत नहीं करेंगे। इसलिए मेरे मन में कभी कोई संदेह नहीं था कि मैं बड़ा शॉट नहीं खेल पाऊंगा।"

मैच की बात करें तो इस मुकाबले में पाकिस्तानी टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए बाबर आजम (50) और सौद शकील (52) के अर्धशतकों की बदौलत 46.4 ओवर में 270 रनों पर सिमट गई। जवाब में दक्षिण अफ्रीका की टीम 33 ओवर में 4 विकेट पर 206 रन बनाकर आरामदायक स्थिति में थी, लेकिन इसके बाद उन्होंने उन्होंने अगले 12.3 ओवर में 54 रन पर 5 विकेट खो दिए, इसके बाद केशव महाराज और तबरेज़ शम्सी की आखिरी जोड़ी ने उन्हें 11 रन की अटूट साझेदारी के साथ जीत दिला दी।
 

 

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!