होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

विस चुनाव: 76 अति संवेदनशील पहुंच विहीन मतदान केंद्रों तक हेलीकाप्टर से जायेंगे मतदान कर्मी

बीजापुर

बस्तर संभाग के 12 विधानसभा क्षेत्रों में एक बीजापुर विधानसभा अति नक्सल संवेदनशील है, जो नक्सल घटनाओं के कारण हमेशा सुर्खियों में रहता है। जिले में 76 ऐसे मतदान केंद्र है जो संवेदनशील, अति संवेदनशील और पहुंच विहीन है। इन 76 मतदान केंद्रों में निर्वाचन आयोग मतदान कर्मियों को मतदान कराने हवाई मार्ग से भेजेगा। यह विकल्प नक्सली समस्या को देखते हुए निकाला गया है। मतदान कर्मियों को वोटिंग कराने के लिए कहीं 2 दिन तो कहीं 3 दिन पहले हेलीकाप्टर से भेजा जायेगा। मतदान कर्मियों के साथ सुरक्षाबल के जवान भी मौजूद रहेंगे ताकि इन मतदान केंद्रों में चुनाव शांतिपूर्ण तरीकेसंपन्न हो सके।

उल्लेखनिय है कि नक्सली चुनाव का बहिष्कार करते हुए लगातार बैनर-पर्चा जारी कर रहे हैं। इसी बीच नक्सली मुठभेड़ में इसी इलाके के इनामी कमांडर नक्सली नागेश पदम के मारे जाने के बाद नक्सली संगठन ने गुरूवार 26 अक्टूबर को बीजापुर बंद बुलाया, जिसका अच्छा खासा असर देखने को मिला, सभी दुकानें बंद रहे, आवागमन पूरी तरह से बंद रहा। ऐसे में शांति पूर्ण चुनाव करवाना और मतदान का प्रतिशत बढ़ाना प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती है।    

बीजापुर विधानसभा क्षेत्र में कुल 245 मतदान केंद्र है, जिसमें नगरीय मतदान केंद्रों की संख्या मात्र 22 है, वहीं ग्रामीण मतदान केंद्रों की संख्या 223 है। मतदाताओं की संख्या 168991 है। जिसमें पुरुष मतदाता 81426 और महिला वोटर्स 87557 हैं इनके अलावा थर्ड जेंडर की संख्या 8 है। संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों में 76 मतदान केंद्रों को चिन्हाकित कर अन्यंत्र स्थानांतरित किया गया है। यह वे मतदान केंद्र है, जहां पर नक्सलियों का आधार क्षेत्र माना जाता है।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!