होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

इजरायल अपने नागरिकों को बंदूक बांट रहा, अमेरिका बोला- आ गया है सबसे खतरनाक पल!

तेलअवीव

इजरायल और हमास की जंग अब 22वें दिन में प्रवेश कर गई है. जंग अभी जारी है और अब तक तकरीबन 9 हजार लोग मारे जा चुके हैं. इसी बीच सामने आया है कि जंग का ये आलम अब और खतरनाक होने जा रहा है. इजरायल अब अपने नागरिकों को जंग के लिए तैयार कर रहा है और उन्हें लड़ने के लिए प्रशिक्षण देने जा रहा है. इज़राइल के पुलिस मंत्री इतामार बेन ग्विर ने दक्षिणी इज़राइली शहर अश्कलोन के निवासियों को हथियार बांटे हैं. वहीं, युद्ध के अगले चरण के लिए इजरायली सैनिक प्रशिक्षण ले रहे हैं. 

हम एक खतरनाक क्षण में मिल रहेः लिंडा थॉमस ग्रीनफील्ड
उधर, अमेरिका ने भी कहा है कि जंग का खतरनाक क्षण आ गया है. संयुक्त राष्ट्र में संयुक्त राज्य अमेरिका की राजदूत, लिंडा थॉमस ग्रीनफील्ड ने कहा कि, हम एक खतरनाक क्षण में मिल रहे हैं, यह इजरायलियों और फिलिस्तीनियों के लिए एक खतरनाक क्षण है. यह क्षण सबसे महत्वपूर्ण है औरसाथ ही दुनिया के लिए भी महत्व रखता है. हमारी आंखों के सामने मौत, विनाश और हताशा का खेल इंसानियत पर से भरोसा उठवाने के लिए काफी है.

6 अक्टूबर की यथास्थिति में जाना संभव नहीं
उन्होंने कहा कि, जैसा कि राष्ट्रपति बाइडेन ने कल कहा था, 6 अक्टूबर की यथास्थिति में वापस जाना संभव नहीं है. हमें यथास्थिति पर वापस नहीं जाना चाहिए. जहां हमास इजरायल को आतंकित करता है और फिलिस्तीनी नागरिकों को मानव ढाल के रूप में प्रयोग कर रहा है. हमें उस यथास्थिति पर भी वापस नहीं जाना चाहिए, जहां चरमपंथी निवासी वेस्ट बैंक में फिलिस्तीनियों पर हमला कर सकते हैं और उन्हें आतंकित कर सकते हैं. यथास्थिति अस्थिर है और यह स्वीकार करने लायक भी नहीं है. इसका मतलब यह है कि जब यह संकट खत्म हो जाएगा, तो आगे क्या होगा इसका एक दृष्टिकोण होना चाहिए. हमारे विचार में, वह दृष्टिकोण टू स्टेट सॉल्यूशन के इर्द-गिर्द केंद्रित होना चाहिए.

अमेरिका में कतर में हमास के साथियों पर हमले की तैयारी में
इन्हीं सबके बीच, इज़राइल फ़िलिस्तीन संघर्ष में बड़ी सफलता भी सामने आई है. अमेरिकी अधिकारी का कहना है कि वह कतर में हमास के साथियों पर हमला करने की तैयारी में है. कतर ने अमेरिका से कहा कि हमास द्वारा गाजा में ले जाए गए कई बंधकों की रिहाई की गारंटी लेने के लिए संकट हल होने के बाद वह कतर में हमास की उपस्थिति पर भरोसा करने की तैयारी कर रहा है.

इजरायल की उत्तरी गाजा में जमीनी घुसपैठ भी शुरू
उधर, इजरायल ने उत्तरी गाजा में जमीनी घुसपैठ शुरू कर दी है. आईडीएफ तीन दिशाओं से बीट हनौन की ओर बढ़ रहा है. हमास के साथ संघर्ष के मद्देनजर एस्क्लोन बंदरगाह और उसके तेल टर्मिनल को बंद करने के बाद इजरायली समुद्री पुलिस ने इजरायल और गाजा के बीच तट रेखा पर हमला किया है. जॉर्डन के विदेश मंत्री अयमान अल-सफ़ादी ने कहा कि, इजरायल ने गाजा पट्टी में जमीनी अभियान शुरू कर दिया है, जिसका परिणाम मानवीय आपदा होगा.

अब तक मारे गए 8800 लोग
इजरायल-फिलिस्तीन संघर्ष में 8,800 लोग मारे गए हैं. फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, गाजा पट्टी और वेस्ट बैंक में कुल 7,436 फ़िलिस्तीनी मारे गए हैं. इनमें गाजा पट्टी में 7,326 और वेस्ट बैंक में 110 लोगों की जान गई. मंत्रालय ने एक बयान में कहा, और तटीय इलाके में 18,967 फिलिस्तीनी घायल हो गए. जेरूसलम पोस्ट द्वारा उद्धृत इजरायली स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, संघर्ष में 18 अक्टूबर तक इजरायली पक्ष में 1,400 से अधिक लोगों की मौत का दावा किया गया है.

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!