होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

WC के उलटफेर खतरे की घंटी, अफगानिस्तान बिगाड़ सकता है 3 टीमों का समीकरण

नईदिल्ली

 वर्ल्‍डकप 2023 (World Cup 2023) में अफगानिस्‍तान टीम (Afghanistan Team)को ‘डार्क हॉर्स’ माना जा रहा है. गत चैंपियन इंग्‍लैंड को 15 अक्‍टूबर के मैच में धूल चटाकर अफगान टीम अपनी ताकत का अहसास करा चुकी है. हशमतुल्‍ला शाहिदी (Hashmatullah Shahidi) की टीम के लिहाज से सबसे अच्‍छी बात यह है कि सही वक्‍त पर उसने अपने प्रदर्शन को ऊँचाई पर पहुंचाया है और आने वाले मैचों में दिग्‍गज टीमों के लिए वह खतरा बन सकती है.चूंकि मौजूदा वर्ल्‍डकप का आयोजन भारत में हो रहा है, ऐसे में यहां के स्पिन विकेट पर अफगान टीम आगे के मैचों में भी बेहतरीन टीमों के खिलाफ ऐसे प्रदर्शन को दोहरा सकती है.

अफगानिस्‍तान और बांग्‍लादेश की टीम के मुकाबले की बात करें तो इसमें एशियाई मुल्‍क की टीम ने बॉलिंग और बैटिंग, दोनों ही क्षेत्रों में बेहतरीन प्रदर्शन किया. टीम के बैटरों ने पहले जोस बटलर की टीम के खिलाफ 284 का स्‍कोर करके दबाव बनाया और फिर अपनी स्पिन तिकड़ी की दम पर विपक्षी टीम के बैटरों की नाम में दम कर दिया. मुजीब उर रहमान(Mujeeb Ur Rahman), राशिद खान (Rashid Khan)और मोहम्‍मद नबी (Mohammad Nabi) की स्पिन बॉलिंग तिकड़ी ने इंग्‍लैंड को 40.3 ओवर में 215 के स्‍कोर पर समेटकर 69 रनों की जीत की पटकथा लिखी.

काबिलेगौर यह भी है कि अफगानिस्‍तान का स्पिन गेंदबाजी आक्रमण इस समय अपने फॉर्म में है. वैसे भी टूर्नामेंट में सबसे अच्‍छे स्पिन आक्रमण अफगान टीम का ही माना जा रहा है. ऐसे में आगे के मैचों में और भी टीमें इससे उलटफेर का शिकार बनीं तो किसी को हैरत नहीं होनी चाहिए. टंप कार्ड राशिद खान ने अब तक अफगानिस्‍तान की ओर से सर्वाधिक 5 विकेट लिए हैं.

अफगानिस्‍तान के तीन मैचों में अब तक एक जीत के साथ दो अंक हैं और उसे अपने अगले मैच में अब से कुछ देर बाद न्‍यूजीलैंड (New Zealand vs Afghanistan) का सामना करना है. इसके बाद यह टीम 23 अक्‍टूबर को पाकिस्‍तान, 30 अक्‍टूबर को श्रीलंका, 3 नवंबर को नीदरलैंड्स, 7 नवंबर को ऑस्‍ट्रेलिया और 10 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से मैच खेलने हैं.

मौजूदा प्रदर्शन को देखते हुए अफगान टीम की नीदरलैंड्स पर जीत को लगभग तय मानी जा रही है. टीम अपने शेष चार मैचों में भी अगर बड़ी टीमों के खिलाफ अच्‍छा प्रदर्शन कर जीत हासिल करती है, तो टीम सेमीफाइनल में रेस में भी शामिल हो सकती है.

वैसे भी भारत के खिलाफ मुकाबले के बाद बाबर आजम की पाकिस्‍तान टीम अपने घर में तीखी आलोचना का सामना कर रही है, ऐसे में प्रदर्शन के स्‍तर को ऊपर उठाना इस टीम के लिए चुनौती से कम नहीं होगा. अफगान टीम, पहले पाकिस्‍तान को हरा भी चुकी है, ऐसे में मौजूदा प्रदर्शन को देखते हुए उसके बाबर ब्रिगेड के खिलाफ जीत के अवसर उजले माने जा रहे हैं.

श्रीलंका टीम के कुछ प्रमुख खिलाड़ी पहले ही चोट के चलते वर्ल्‍डकप की टीम से बाहर हैं, रही-सही कसर टूर्नामेंट के दौरान कप्‍तान दासुन शनाका के चोट के कारण बाहर होने ने पूरी कर दी है. ऐसे में अफगानिस्‍तान के हाथों, 1996 की चैंपियन श्रीलंका भी उलटफेर का शिकार बन सकती है.

अब तक के औसत दर्जे के प्रदर्शन को दरकिनार करें तो ऑस्‍ट्रेलिया टीम तो स्पिन गेंदबाजी के खिलाफ बैटिंग में अच्‍छी है लेकिन नीदरलैंड्स की दक्षिण अफ्रीका पर जीत ने अफगान टीम के लिए एक ‘खिड़की’ जरूर खोली है. नीदरलैंड्स की जीत के बाद अफगान प्‍लेयर में भी यह भावना प्रबल होगी कि यदि डच टीम, दक्षिण अफ्रीका को हरा सकती है तो वह क्‍यों नहीं? जरूरत है तो बस प्रदर्शन को आसमान की ऊंचाई देने की.

न्‍यूजीलैंड के खिलाफ आज के मैच पर भी क्रिकेटप्रेमियों की नजर टिकी है.अफगान टीम के इंग्‍लैंड के खिलाफ प्रदर्शन ने दिग्‍गज विपक्षी टीमों के लिए खतरे की घंटी बजा दी है.’लड़ाका’ अफगान टीम अगर अपेक्षाओं पर खरी उतरी तो आगे के मैचों में और भी उलटफेर, फैंस को खेल का ‘फुल मजा’ दे सकते हैं.

 

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!