होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

जिले में खनिज के अवैध उत्खनन एवं परिवहन पर करें सख्त कार्यवाही- कलेक्टर

जिले के शासकीय एवं निजी चिकित्सालय में फायर एनओसी व इलेक्ट्रिक सेफ्टी की ऑडिट कर करें जांच- कलेक्टर

समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक हुई आयोजित

अनूपपुर। कलेक्टर आशीष वशिष्ठ ने जिले में खनिज के अवैध उत्खनन एवं परिवहन पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश खनिज विभाग के अधिकारियों को देते हुए कहा कि जिले में खनिज अमला राजस्व अधिकारी एवं पुलिस अधिकारियों के साथ मिलकर संयुक्त रूप से कार्यवाही करें। कार्यवाही में किसी भी प्रकार की उदासीनता एवं लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि अधिकारी इसका भी विशेष ध्यान रखें कि कृषि वाहनों द्वारा किसी भी प्रकार के खनिज का परिवहन ना किया जाए। कलेक्टर श्री आशीष वशिष्ठ आज कलेक्ट्रेट कार्यालय के नर्मदा सभागार में आयोजित समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे।

बैठक में कलेक्टर ने जिले के सरकारी एवं निजी अस्पतालों में फायर सेफ्टी एनओसी एवं इलेक्ट्रिकल सेफ्टी सहित अन्य सुरक्षा के उपायों की ऑडिट कर कमी पाए जाने पर कार्यवाही करने के निर्देश देते हुए कहा कि अस्पतालों में बेहतर सुरक्षा के इंतजाम होने चाहिए। इसी प्रकार कलेक्टर ने जिले के शॉपिंग मॉल, टाकीज़, जिम, होटल इत्यादि का निरीक्षण कर फायर सेफ्टी एवं इलेक्ट्रॉनिक सेफ्टी एनओसी की जांच के निर्देश सभी नगर पालिका अधिकारियों को दिए।

बैठक में कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाएं। मरीजों को चिकित्सालयों में किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े। इस दौरान कलेक्टर ने जिले के झोलाछाप डॉक्टरों के विरुद्ध कार्यवाही के संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से जानकारी प्राप्त की तथा निर्देश दिए की झोलाछाप डॉक्टरों के विरुद्ध सतत कार्यवाही की जाए। बैठक में कलेक्टर ने प्रधानमंत्री जनमन योजना के अंतर्गत चयनित हितग्राहियों के जाति प्रमाण पत्र बनाएं जाने की समीक्षा की। इस दौरान कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि हितग्राहियों का ई-केवाईसी करा कर जाति प्रमाण पत्र बनाना सुनिश्चित करें।

बैठक में कलेक्टर ने खाद्यान्न वितरण की स्थिति की भी समीक्षा की। बैठक में कलेक्टर ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायतों को निर्देशित किया कि पात्रता पर्ची में पात्र हितग्राहियों का नाम जोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि कोई भी पात्र हितग्राही का नाम पात्रता पर्ची से न छूटे इसका भी अधिकारी विशेष ध्यान रखें। बैठक में कलेक्टर ने नगर पालिका क्षेत्र अमरकंटक के अंतर्गत हो रहे अतिक्रमण के विरुद्ध कार्यवाही करने के निर्देश अनुविभागीय अधिकारी पुष्पराजगढ़ एवं नगर पालिका अधिकारी अमरकंटक को दिए। बैठक में कलेक्टर ने आहार अनुदान योजना की समीक्षा करते हुए स्थिति की जानकारी अधिकारियों से प्राप्त की।

बैठक में कलेक्टर ने प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति के अंतर्गत एमपीटास पोर्टल पर अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों के पंजीयन की स्थिति की समीक्षा करते हुए एक सप्ताह के अंदर शत प्रतिशत विद्यार्थियों के पंजीयन कराने के निर्देश सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग को दिए। बैठक में कलेक्टर ने शासकीय विद्यालय जर्जर भवन की स्थिति की भी समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि कोई भी विद्यालय की भवन जर्जर हो चुकी है, उनका प्राथमिकता के आधार पर डिस्मेंटल कराएं।

बैठक में अपर कलेक्टर श्री अमन वैष्णव, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री तन्मय वशिष्ठ शर्मा, संयुक्त कलेक्टर श्री दिलीप कुमार पांडेय, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अनूपपुर श्रीमती दीपशिखा भगत, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!