होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

खपरइले के बिरले बांस नयन पर बूंदा चुअय

शहडोल में राष्ट्रीय लोक गायिका मान्या पाण्डेय के गीतों को सुन मंत्रमुग्ध हुए श्रोता

शहडोल के मानस भवन में विंध्य लोकरंग महोत्सव का हुआ आयोजन

शहडोल। विंध्य के लोकगीतों के विस्तार, संरक्षण, संवर्धन व इन्हें मंचीय स्वरूप में जन जन तक पहुंचाने के उद्देश्य से उत्थान सामाजिक सांस्कृतिक एवं साहित्यिक समिति द्वारा शहडोल व रीवा संभाग के सम्पूर्ण जिलों में विंध्य लोकरंग महोत्सव का आयोजन किया जा रहा हैं | इसी तारतम्य में रविवार 19 मई को मानस भवन शहडोल में उर्मिला कटारे पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष शहडोल, प्रो. परमानंद तिवारी, समाजसेवी सागर मिश्रा, डॉ. उत्तम द्विवेदी, दाऊ राम पांडेय, गौतम विजय मिश्रा आदि की उपस्थिति में कार्यक्रम की शुरुआत हुई। शहडोल के मानस भवन में महोत्सव की शुरुआत अतिथियों द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा में दीप प्रज्वलन के साथ हुई, जिसमें मान्या पाण्डेय के द्वारा बघेली लोकगीत – खपरइले के बिरले बांस नयन पर बूंदा चुअय, जरउ भिनसारे के रतिया हो मोर महुआ उजरि गए, मैया सुरसतिया हो मैया सुरसतिया, बघेली टप्पा गीत पति पत्नी एक दिन करिन मन विचार चला राजा खेली थे एक खेलबार हो बुलेट बनि जा, बघेली सोहाग गीत चिरई ता सोय गइं चुनूगुन सोय गए सोय गए गउना के लोग, दसरथ राज दुलार राम बनरा बनि आयो रे, बघेली जेवनार गारी गीत पातिन पाती परि गय पतरिया जेमय बइठें किसन कंधाई, बघेली अंजुरी विवाह गीत अंगना मा बाजा बाजय बाजय सगली राति हो की, बघेली बिरहा गीत नदिया नदिया किनारे तीन बिरिछ हैं केला कटहर आम आदि विविध संस्कार, ऋतु, श्रम एवं जातीय गीतों की मनमोहक प्रस्तुति दी गई। तत्पश्चात बाल कलाकार प्रत्युष द्विवेदी द्वारा सैया मिले लरिकइया एवं भजन मेरा आपकी कृपा से गीत की प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम में आगे विंध्य के प्रसिद्ध लोक गायक नरेन्द्र सिंह सीधी द्वारा बघेली ददरिया, कोलदहका, टप्पा एवं पितमा गीतों की प्रस्तुति दी गई। उसके बाद लोक गायिका श्रुति सिंह, सुभी सिंह द्वारा विवाह गीतों एवं लोक गायक कपिल तिवारी द्वारा बघेली दादरा गीतों की प्रस्तुति दी गई।
उक्त लोकरंग महोत्सव में लोकगायकों के साथ संगतकारों में रावेंद्र तिवारी, हरिश्चंद्र मिश्रा, कर्णवीर सिंह, पवन शुक्ला, रजनीश जायसवाल, निर्भय द्विवेदी, मनोज विश्वकर्मा आदि कलाकारों ने साथ निभाया।

मान्या पाण्डेय एवं लोक कलाकारों का हुआ सम्मान

विंध्य लोकरंग महोत्सव में राष्ट्रीय लोकगायिका मान्या पाण्डेय एवं शहडोल जिला के रंगकर्मियों, लोक कलाकारों, लोक गायकों, समाजसेवियों एवं संस्कृति कर्मियों का सम्मान किया गया जिसमें विराट नगर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ, समाज सेवी अमितेश पांडेय, गौतम विजय मिश्रा व राजेश मिश्रा अल्ट्राटेक कोल माइंस, उप पुलिस अधीक्षक राघवेंद्र द्विवेदी के द्वारा राष्ट्रीय लोक गायिका मान्या पाण्डेय को सम्मानित किया गया। वहीं जिले की आकाशवाणी लोक गायिका उर्मिला कटारे, जितेंद्र तिवारी, बाल कलाकार रिया मिश्रा एवं शहडोल जिले के रंगकर्मी इश्ताक शहडोली, लकी चतुर्वेदी, रेनू विश्वकर्मा, विशाल आदि का सम्मान किया गया।
इस दौरान अमितेश पांडेय, गौतम विजय मिश्रा, संतोष पाण्डेय, राजेश मिश्रा, सुनील मिश्रा, अरुण द्विवेदी, संतोष लोहनी, अजीत सिंह, ब्रजेश पयासी आदि सहित जिले के समाज सेवी, साहित्यकार, लोक कलाकार, रंगकर्मी व पत्रकार एवं भारी संख्या में शहरवासी उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!