होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

मेरे लिए देश पहले, कुछ लोगों के लिए परिवार’, PM मोदी बोले- जांच एजेंसियों को काम करने की दी खुली छूट

पीटीआई, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कहा कि अनिश्चितता से जूझ रही दुनिया में एक बात तय मानी जा रही है कि भारत तेज गति से विकास करता रहेगा। मोदी ने कहा कि उनके लिए देश पहले है। विपक्ष का नाम लिए बिना उन्होंने यह भी कहा कि उन लोगों का नजरिया ‘पहले परिवार’ है।

एक मीडिया संस्थान के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम ने लोकसभा चुनाव में अपनी सरकार की वापसी का भरोसा जताया और कहा कि लोग अगले पांच वर्षों में निर्णायक नीतियां और फैसला होते देखेंगे। मैं उन पर काम कर रहा हूं। प्रधानमंत्री ने कहा,इस बात की पूरी गारंटी है कि अगले पांच वर्षों में भारत एक स्थिर, सक्षम और मजबूत देश के रूप में उभरेगा। विकास कार्यों को नई ऊंचाई मिलेगी।

क्या कुछ बोले PM मोदी?

पीएम ने कहा कि उनकी सरकार ने भ्रष्टाचार के प्रति शून्य सहिष्णुता की नीति अपना रखी है। जांच एजेंसियों को काम करने की खुली छूट दी गई है। यही कारण है कि कुछ लोगों के पेट में दर्द हो रहा है। पीएम का इशारा स्पष्ट रूप से विपक्षी नेताओं की ओर था, जिन्होंने जिन्होंने सरकार पर अपने प्रतिद्वंद्वियों को निशाना बनाने के लिए जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है।
पीएम मोदी ने कहा कि ईडी ने 2014 तक केवल पांच हजार करोड़ रुपये जब्त किए थे, जबकि इसके बाद उसने एक लाख करोड़ रुपये से अधिक की संपत्तियों को अटैच किया है और साइबर, नार्को अपराध तथा आतंकवाद से जुड़े लोगों को गिरफ्तार किया है।
*पीएम ने समाज के वंचित वर्गों की मदद के लिए उनकी सरकार द्वारा लाई गई कल्याणकारी योजनाओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। इस दौरान उन्होंने रेहड़ी-पटरी वालों और ग्रामीण क्षेत्र के गरीब लोगों के लिए किए गए कार्यों का जिक्र किया।*

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!