होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

मसूद अजहर के करीबी रहीमुल्ला की कराची में हत्या

कराची.

पाकिस्तान में आतंकियों का खात्मा जारी है। अबकी बार जैश-ए-मोहम्मद के आका मसूद अजहर का करीबी मौलाना रहीमुउल्ला गोलीबारी में ढेर हो गया है। भारत के मोस्ट वांटेड आतंकियों में शामिल मौलाना मसूद अज़हर के करीबी रहीमुल्ला उर्फ मौलाना तारिक की कराची के ओरंगी शहर इलाके में अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी। पाकिस्तान में पिछले कुछ दिनों से मारा गया यह तीसरा आतंकी है। एक हफ्ते से भी कम समय पहले लश्कर का टॉप कमांडर गाजी खैबर पख्तूनख्वा में गोलीबारी में मारा गया गया था।

पिछले महीने पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड शाहिद लतीफ की हत्या कर दी गई थी। स्थानीय रिपोर्ट्स के मुताबिक, तारिक मुस्लिम स्कॉलर था और एक धार्मिक सभा में शामिल होने जा रहा था, तभी अज्ञात लोगों ने उस पर गोलियां चला दीं। स्थानीय मीडिया आउटलेट्स ने पुलिस अधिकारियों के हवाले से कहा कि यह घटना टारगेट किलिंग हो सकती है। मसूद अजहर का करीबी मौलाना तारिक कहने को तो मुस्लिम स्कॉलर था लेकिन, उस पर धर्म की आड़ में आतंकियों की फौज तैयार कराने के गंभीर आरोप थे। इस पर सीमा पार से कश्मीर को दहलाने की साजिश रचने के भी आरोप हैं। पुलिस का कहना है कि हमलावरों का पता लगाया जा रहा है। सीसीटीवी खंगाले जा रहे हैं।

महीनेभर में तीसरे आतंकी का काम तमाम
मौलाना तारिक की हत्या की रिपोर्ट पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के टॉप कमांडर अकरम खान गाजी की हत्या के एक हफ्ते से भी कम समय बाद आई है। गाजी को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा के बाजौर जिले में बाइक सवार हमलावरों ने गोली मार दी थी। एक महीना पहले पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड शाहिद लतीफ की हत्या कर दी गई थी। ये हमले हाल के हफ्तों में पाकिस्तान में अज्ञात लोगों द्वारा आतंकवादियों की रहस्यमय हत्याओं की एक सीरीज है। गाजी कथित तौर पर लश्कर-ए-तैयबा के लिए भर्तीकर्ता था। उस पर कश्मीर घाटी में घुसने वाले दहशतगर्दों की फौज तैयार करने का आरोप था। पाकिस्तान में आतंकियों की रहस्यमय हत्याओं की घटनाएं बीते दिनों लंबे समय से चली आ रही है। इसमें जम्मू-कश्मीर के सुंजुवान में भारतीय सेना शिविर पर 2018 के आतंकवादी हमले के मास्टरमाइंड और लश्कर कमांडर ख्वाजा शाहिद उर्फ ​​मिया मुजाहिद का अपहरण और सिर कलम करना भी शामिल है।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!