होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

PRSU की सेमेस्टर परीक्षाओं में बहुविकल्पीय प्रश्न घटाए जायेंगे

रायपुर
पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के एमए, एमएससी, एमकाम समेत अन्य स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए होने वाली सेमेस्टर परीक्षाओं में बदलाव किया जा रहा है। सेमेस्टर परीक्षाओं में प्रश्नों की संख्या अधिक होने पर पेपर सेट करने वाले विशेषज्ञ ढूंढने में दिक्कत होती है।

इसलिए विश्वविद्यालय प्रबंधन प्रश्नों को कम करने का निर्णय लिया है। दिसंबर-जनवरी में होने वाली सेमेस्टर परीक्षा में छात्रों को यहा बदलाव देखने को मिल जाएगा। परीक्षा में सवालों की संख्या कम करके 20 कर दी जाएगी। साथ ही बहुविकल्पीय प्रश्नों की संख्या को घटा दिया जाएगा। अति लघुत्तरीय प्रश्न अब नहीं पूछे जाएंगे।

स्नातकोत्तर कक्षाओं में हर छह महीने में सेमेस्टर परीक्षा होती है। एक विषय में बहुविकल्पीय, अति लघुउत्तरीय, लघुउत्तरीय, दीर्घउत्तरीय जैसे 40 से 45 प्रश्न पूछे जाते हैं। इतने प्रश्नों को ढूंढने और सेट करने में दिक्कत होती थी। इसे देखते हुए पीजी की सेमेस्टर परीक्षाओं में यह नई व्यवस्था दिसंबर में होने वाली सेमेस्टर परीक्षा से लागू होगी। पीआरएसयू व इससे संबद्ध कालेजों में एमए, एमकाम, एमएससी, एमसीए, एलएलएम, एमपीएड, एम. लिब की सभी कक्षाओं को मिलाकर लगभग 40 विषयों की पढ़ाई होती है। इसमें लगभग 25 हजार छात्र-छात्राएं पढ़ रहे हैं।

10 वर्ष पहले हुआ था बदलाव
पीआरएसयू की सेमेस्टर परीक्षाओं में बदलाव लगभग 10 वर्ष पहले किया गया गया था। अब फिर से बदलाव किया जा रहा है। इसका फायदा छात्रों को होगा। अभी तक 20 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते थे, सभी प्रश्न एक-एक अंक होते थे। अब 10 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे, लेकिन नंबर कम नहीं होंगे। अब प्रत्येक प्रश्न दो-दो अंकों के होंगे। जिन विषयों में 80 नंबर के अनुसार थ्योरी परीक्षा होती है, उनमें आठ प्रश्न पूछे जाएंगे, एक बहुविल्पकीय प्रश्न ढाई अंकों का रहेगा।

प्रश्नपत्र से अति लघु उत्तरीय प्रश्नों को हटाया
पीआरएसयू की पीजी सेमेस्टर परीक्षाओं में अब अति लघु उत्तरीय सवाल नहीं पूछे जाएंगे। अभी तक अति लघुउत्तरीय 20 अंक के 10 प्रश्न पूछे जाते थे। तीन-तीन अंकों के 10 लघुउत्तरीय प्रश्न भी पूछे जाते थे। 100 नंबर के प्रश्न पत्र में अब लघुउत्तरीय 50 नंबर के होंगे, पहले यह 30 अंक के थे। पहले दीर्घ उत्तरीय सवालों के जवाब 150 शब्दों में देने पड़ते थे, अब 350 शब्द लिखने पड़ेंगे। इसी तरह शार्ट आंसर वाले प्रश्नों में भी शब्दों की संख्या 75 से बढ़ाकर 100 की गई है।

सेमेस्टर परीक्षाओं के आवेदन एक नवंबर से
पीआरएसयू में दिसंबर-जनवरी में होने वाली सेमेस्टर परीक्षाओं के लिए आवेदन प्रक्रिया एक नवंबर शुरू हो रही है। अभ्यर्थी 15 नवंबर तक आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। 16 से 22 नवंबर तक 100 रुपये विलंब शुल्क के साथ अभ्यर्थियों को आवेदन करने की अनुमति दी जाएगी।

अब 20 प्रश्न पूछे जाएंगे
सेमेस्टर परीक्षाओं में बदलाव किया गया है। प्रश्नों की संख्या ज्यादा होने के कारण पेपर सेट करने वाले भी नहीं मिलते थे। अभी तक 40 से 45 प्रश्न होते थे, अब 20 प्रश्न पूछे जाएंगे।
डा. शैलेंद्र पटेल, कुलसचिव पीआरएसयू

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!