होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

World Cup 2023: 7 गजब संयोग भारतीय टीम को जीता सकतें है वर्ल्ड कप !

नई दिल्ली

आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप 2023 में भारतीय टीम अजेय रथ पर सवार है. टीम ने अब तक तीन मैच खेले और तीनों में दमदार अंदाज में जीत दर्ज की है. उसने ऑस्ट्रेलिया, अफगानिस्तान और पाकिस्तान को करारी शिकस्त दी है. यह टूर्नामेंट भारत में ही खेला जा रहा है.

अब रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम को इस वर्ल्ड कप में अपना चौथा मुकाबला बांग्लादेश के खिलाफ खेलना है. यह मैच 19 अक्टूबर को पुणे में खेला जाएगा. मगर फैन्स को एक खुशखबरी बता दें कि इस बार भारतीय टीम के वर्ल्ड कप खिताब जीतने को लेकर 7 गजब के शुभ संयोग बन रहे हैं.

पहला संयोग
भारतीय टीम ने इस वनडे वर्ल्ड कप 2023 की शुरुआत ही बेहतरीन संयोग के साथ की थी. रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम ने पहला मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 6 विकेट से जीता था. इस मैच में भारतीय टीम ने 200 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए 2 रनों पर ही 3 विकेट गंवा दिए थे. इस मैच में दोनों भारतीय ओपनर रोहित शर्मा और ईशान किशन खाता नहीं खोल सके थे.

वर्ल्ड कप इतिहास में ऐसा दूसरी बार हुआ, जब भारतीय टीम के दोनों ओपनर खाता नहीं खोल सके. इससे पहले 1983 के वर्ल्ड कप में जिम्बाब्वे के खिलाफ मुकाबले में ऐसा हुआ था. इसके बाद भारतीय टीम ने 1983 में और अब दोनों ही मुकाबले जीते हैं. साथ ही कपिल देव की कप्तानी में भारतीय 1983 वर्ल्ड कप खिताब भी जीत लिया था. ऐसे में यह भी गजब संयोग बन गया है. इस बार भी भारत की उम्मीदें बंध गई हैं.

दूसरा संयोग
1983 वर्ल्ड कप में जब जिम्बाब्वे के खिलाफ मैच था, तब कप्तान कपिल देव नहाने चले गए थे. मगर थोड़ी देर बाद पता चला था कि भारतीय टीम ने 17 रनों पर 5 विकेट गंवा दिए. इसके बाद कपिल के बीच में ही बाथरूम से बाहर आना पड़ा और बैटिंग करनी पड़ी. इसके बाद कपिल देव ने 175 रनों की धांसू पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई थी. उस सीजन में भारत ही चैम्पियन बना था.

लगभग ऐसा ही कुछ भारत के पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुआ. 50 ओवर विकेटकीपिंग के बाद केएल राहुल नहाने चले गए थे. मगर थोड़ी देर में पता चला कि भारतीय टीम ने 2 रनों पर 3 विकेट गंवा दिए. तब राहुल को आनन-फानन में बैटिंग के लिए आना पड़ा. उन्होंने मैच में नाबाद 97 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई. मैच के बाद राहुल ने कहा था, 'मैं बस नहाकर निकला ही था और सोच रहा था कि आधे घंटे के लिए आराम करूं लेकिन मुझे बल्लेबाजी के लिए आना पड़ा.'

तीसरा संयोग
सबसे ज्यादा 5 बार की वर्ल्ड कप विजेता ऑस्ट्रेलियाई टीम हमेशा से ही मजबूत मानी जाती रही है. यह भी कहा जाता है कि यदि वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया को हरा दिया, तो समझ लो कि वो टीम काफी तगड़ी है और वर्ल्ड कप की दावेदार है. इसी कड़ी में भारतीय टीम ने 1983 और 2011 में ऑस्ट्रेलिया को हराया था. दोनों ही बार भारतीय टीम ही चैम्पियन बनी थी.

इस बार भी पहले ही मैच में कंगारू टीम को शिकस्त देकर जीत का एक और गजब संयोग बना दिया है. बता दें कि वनडे वर्ल्ड कप में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 13 में से 5 मैच जीते और 8 हारे हैं. 1983 और 2011 के अलावा ऑस्ट्रेलिया को 1987 और 2019 में हराया है. इन दोनों ही सीजन में भारतीय टीम सेमीफाइनल तक पहुंची थी.

चौथा संयोग
2015 में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने वर्ल्ड कप खिताब जीता था. मगर तब टूर्नामेंट शुरू होने से पहले वो ICC वनडे रैंकिग में नंबर-1 टीम बनी थी. इसके बाद 2019 वर्ल्ड कप से ठीक पहले इंग्लैंड नंबर-1 वनडे टीम बनी थी और तब उसने भी खिताब अपने नाम किया था.

इस बार भी ऐसा ही अजब संयोग बन रहा है. वनडे वर्ल्ड कप 2023 के शुरू होने से ठीक पहले भारतीय टीम वनडे वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर-1 की पोजिशन पर काबिज हुई. ऐसे में इस बार भारतीय टीम के साथ भी इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसा संयोग हो सकता है. रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम चैम्पियन बन सकती है.

पांचवां संयोग
2011 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम चैम्पियन बनी थी. तब वह पहली टीम बनी थी, जिसने अपने घर में पहली बार खिताब जीतने का गौरव हासिल किया था. इसके बाद 2015 में दूसरी बार कोई मेजबान टीम चैम्पियन बनी. यह खिताब ऑस्ट्रेलिया ने अपने घर में जीता था. फिर 2019 में लगातार तीसरी बार किसी मेजबान टीम इंग्लैंड ने खिताब जीता. अब 2023 में लगातार चौथी बार मेजबान टीम भारत चैम्पियन बन सकती है.

छठा संयोग
2023 में भारत ने चंद्रयान 3 की सफलता के बाद इतिहास रच दिया है. इसके बाद तुरंत ही भारतीय कप्तान रोहित शर्मा की IPL फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस ने इसको लेकर एक खास संयोग की ओर इशारा करते हुए पोस्ट शेयर की थी. इस पोस्ट में 2019 के उस समय की तस्वीर थी जब ISRO के तत्कालीन प्रमुख के. सिवान दुखी थे और एक तरफ रोहित शर्मा की 2019 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में हार के बाद निराश तस्वीर थी.

अब 2023 में ISRO के मौजूदा प्रमुख एस. सोमनाथ की खुशी से लबरेज तस्वीर है और दूसरी तरफ है प्रश्नचिन्ह. क्या टीम इंडिया इस संयोग को पूरा कर पाएगी? यानी 2019 में असफल होने के 4 साल बाद चंद्रयान मिशन सफल रहा. इस तरह पिछली बार भारतीय टीम सेमीफाइनल में हारकर असफल रही थी. मगर अब फाइनल जीतकर सफल हो सकती है.

सातवां संयोग
भारतीय टीम ने वर्ल्ड कप 2023 में प्रैक्टिस के लिए नई जर्सी भी लॉन्च की है. भारत की यह नई जर्सी भगवा कलर की है, जिसके फोटोज भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुए. कुछ यूजर्स का मानना है कि यह ऑरेंज रंग है, लेकिन ज्यादातर इसे भगवा ही बता रहे और जमकर कमेंट्स कर रहे.

इस प्रैक्टिस जर्सी लॉन्च के साथ ही भारतीय टीम के इस बार वर्ल्ड कप जीतने का एक और शुभ और अजब संयोग भी बन गया. दरअसल, भारतीय टीम ने 2011 वर्ल्ड कप के दौरान भी इसी कलर की जर्सी पहनकर प्रैक्टिस की थी और खिताब जीता था. हालांकि 2019 में भी भारतीय टीम ने इसी रंग की जर्सी में प्रैक्टिस की थी. एक मैच भी खेला था. मगर तब भारतीय टीम सेमीफाइनल में हार गई थी.

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!