होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

आईडीएफ ने गाजा में हमास के शीर्ष कमांडरों को मार गिराया !

 

तेल अवीव
इजराइल डिफेंस फोर्सेज (आईडीएफ) ने शुक्रवार को घोषणा की कि उसके सैनिकों ने गाजा में 7 अक्टूबर के नरसंहार में भाग लेने वाले कई वरिष्ठ हमास कमांडरों को मार डाला है। सेना ने कहा कि कमांडर – अहमद मूसा और अम्र अलहांडी – उग्रवादी समूह कुलीन नुखबा बलों का हिस्सा थे।

मूसा नुखबा कंपनी कमांडर था जबकि अलहांडी ने एक प्लाटून कमांडर के रूप में कार्य किया था। आईडीएफ ने कहा कि ये दोनों जबालिया क्षेत्र में छिपे हुए थे। सेना ने यह भी बताया कि शिन बेट सुरक्षा एजेंसी से मिली खुफिया जानकारी के बाद यह ऑपरेशन चलाया गया। आईडीएफ के अनुसार, मूसा हमास के उन कमांडरों में से था, जिसने 7 अक्टूबर को ज़िकिम बेस, पास के किबुत्ज़ और क्षेत्र में एक अन्य सैन्‍य चौकियों पर हमले का नेतृत्व किया था।

सेना ने उत्तरी गाजा ब्रिगेड में हमास के स्नाइपर समूह के प्रमुख मुहम्मद कहलौत की हत्या की भी घोषणा की। लेकिन इसने उग्रवादी के बारे में कोई और जानकारी नहीं दी। इस बीच, आईडीएफ की 252 बटालियन ने सेना पर हमला करने की योजना बना रहे हमास के 19 आतंकवादियों को मार गिराया।

आईडीएफ और इज़राइल सुरक्षा एजेंसी (आईएसए) ने दावा किया है कि नुखबा बल 7 अक्टूबर को दक्षिणी इज़राइल में नरसंहार और तबाही में शामिल था। इजराइली सेना ने 27 अक्टूबर को गाजा में अपना जमीनी आक्रमण शुरू किया। इस सप्ताह, सघन अभियानों के बीच सेना गाजा शहर में दाखिल हुई। ज़मीनी हमले की शुरुआत के बाद से भीषण लड़ाई में आईडीएफ के 34 सैनिक मारे गये हैं।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!