होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

दीदी-भइया, सियान-जवान 17 नवंबर के करें मतदान: मतदान का संकल्प और किया जलाशय में किया दीप दान

बालोद/रायपुर.

जिले में मतदान का उत्सव गुरुवार को तांदुला जलाशय में मनाया गया। यह मतदान के पूर्व अंतिम जागरूकता कार्यक्रम था। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में अधिकारी कर्मचारी एवं मतदाता शामिल हुए। नौ मतदाता 80 वर्ष से अधिक उम्र के और दिव्यांग मतदाता इस कार्यक्रम में शामिल हुए और उनका सम्मान भी किया गया। वहीं, जलाशय में मतदान की थीम पर दीपदान भी किया गया। यह आयोजन संगीत से सजा रहा।

मानव श्रृंखला बनाई गई। युवा मतदान के लिए हाथों में बैनर पोस्टर लिए नजर आए और जिले के सभी मतदाता जागरूकता के ब्रांड एंबेसेडर को भी बुलाया गया था। दरअसल कलेक्टर कुलदीप शर्मा म मतदान के लक्ष्य के साथ आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिले में आगामी 17 नवंबर को मतदान होगा, जिसके लिए हम हर संभव प्रयास कर रहे हैं। लोकतंत्र के इस महापर्व में सब की भागीदारी सुनिश्चित की जाए। इस बात का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। जिला निर्वाचन अधिकारी के निर्देशन में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में जिले के तीनों ब्रांड एंबेसेडर भी शामिल हुए। उन्होंने भी लोगों को जागरूक किया। इस दौरान चुनाव आयोग से नियुक्त ऑब्जर्वर भी शामिल हुए।

कलेक्टर एसपी ने कहा, जिला हो अव्वल
कलेक्टर कुलदीप शर्मा ने इस दौरान मौजूद सैंकड़ों लोगों को कहा कि आप सब की भागीदारी लोकतंत्र के पर्व में होनी चाहिए। स्वयं के साथ औरों को भी जागरूक करना है। वोट डालने जाना है और मोहल्ले वालों को भी लेकर जाना है। निष्पक्ष होकर मतदान करना है। जिले का नाम अव्वल करना है। वहीं, पुलिस अधीक्षक डॉक्टर जितेंद्र कुमार यादव ने कहा कि पूरे जिले में निर्भीक मतदान करें प्रशासन पुलिस सब साथ है। लोकतंत्र का यह पर्व पांच वर्ष में एक बार आता है। सभी काम को छोड़कर सबसे पहले मतदान को आप सब प्राथमिकता दें।

पद्मश्री डोमार सिंह कुंवर ने की अपील
कार्यक्रम में जिले के मतदान ब्रांड अम्बेसडर पद्मश्री डोमार सिंह कुंवर ने लोकतंत्र में मताधिकार के महत्व की जानकारी देते हुए जिले के सभी मतदाताओं को आगामी विधानसभा आम निर्वाचन की मतदान तिथि 17 नवंबर को अनिवार्य रूप से अपने मताधिकार का प्रयोग करने को कहा। उन्होंने सुमधुर छत्तीसगढ़ी गीत की प्रस्तुति के माध्यम से जिले के सभी मतदाताओं को अनिवार्य रूप से अपने मताधिकार के प्रयोग करने की अपील की। इस अवसर पर मतदान ब्रांड अम्बेसडर पद्मश्री शमशाद बेगम ने भी सुमुधर छत्तीसगढ़ी गीत गाकर आम लोगों को अनिवार्य रूप से मतदान करने के लिए प्रेरित किया।

जनता में निहित है वास्तविक शक्ति
सामान्य प्रेक्षक केशवेंद्र कुमार ने लोकतंत्र में मताधिकार के महत्व की जानकारी देते हुए बताया कि लोकतंत्र की वास्तविक शक्ति जनता में निहित होती है। देश के आम नागरिक अपने मताधिकार के माध्यम से सरकारों का निर्वाचन कर उसे शक्ति प्रदान करते हैं। उन्होंने बालोद जिले के सभी मतदाताओं को मतदान तिथि 17 नवंबर को अनिवार्य रूप से अपने मताधिकार का प्रयोग कर बालोद जिले में शत प्रतिशत मतदान का अनुपम उदाहरण पेश करने को कहा। उन्होंने पिछले आम निर्वाचन में बालोद जिले में हुए 82 प्रतिशत मतदान की भूरी-भूरी सराहना की।

मतदाता जागरूकता अभियान की हुई सराहना
इस अवसर पर व्यय प्रेक्षक श्रीकांत रेड्डी वाय ने उपस्थित लोगों को मताधिकार के महत्व के संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि हम सभी को सशक्त एवं उज्ज्वल भविष्य के निर्माण के लिए सभी प्रकार के निर्वाचनों में अनिवार्य रूप से अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए। रेड्डी बालोद जिले में चलाए जा रहे मतदाता जागरूकता अभियान की सराहना भी की। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी कुलदीप शर्मा ने इस मतादाता जागरूकता अभियान में जिले के दोनों पद्मश्री शमशाद बेगम और डोमार सिंह कुंवर की महत्वपूर्ण उपस्थिति की सराहना की।

नव वधु भी हुए शामिल
इस अवसर पर अतिथियों के द्वारा 90 वर्षीय बुजुर्ग दंपति भीखम लाल सोनी और उनकी धर्मपत्नी श्रीमती सरसवती बाई सोनी, नववधु डामिन साहू एवं डामेश्वरी ठाकुर सहित 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले नये मतदाताओं को पौधा भेंटकर एवं बैच लगाकर सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम स्थल में 'चुनई तिहार के नेवता' का आकर्षक रंगोली बनाकर तथा बालोद जिले का अभिमान शत प्रतिशत मतदान, जल, थल, नभ में बनेगी पहचान, बालोद जिला करेगा शत प्रतिशत मतदान, दीदी-भइया, सियान-जवान 17 नवंबर के करें मतदान का नारा लगाकर जिलेवासियों को मतदाता जागरूकता का संदेश दिया गया। इस तरह से भव्य एवं विशाल कार्यक्रम के आयोजन से पूरा माहौल मतदाता जागरूकता अभियान के रंग में रंग गया था।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!