होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

योगी कैबिनेट पहुंची अयोध्या, किए रामलला और हनुमानगढ़ी के दर्शन

 अयोध्या

रामनगरी अयोध्या में आज का दिन बहुत खास है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश सरकार की कैबिनेट पहली बार एक साथ रामलला के दरबार में पहुंची है। इस दौरान अयोध्या में पहली बार कैबिनेट बैठक का आयोजन कर सरकार सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के एजेंडे को धार भी देगी।

बैठक से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को अयोध्या स्थित रामकथा पार्क पहुंचे। उनके नेतृत्व में मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों ने हनुमानगढ़ी में दर्शन पूजन किया।

इसके बाद श्री राम जन्मभूमि परिसर का पूजन एवं श्री रामलला विराजमान मंदिर में दर्शन एवं पूजन किया।

मुख्यमंत्री के साथ सरकार के मंत्री दीपोत्सव की तैयारियों का जायजा लेने भी पहुंचे। कैबिनेट बैठक में सरकार के दो दर्जन से ज्यादा वरिष्ठ मंत्री मौजूद हैं। योगी कैबिनेट को हनुमानगढ़ी पर महंत राजू दास ने दर्शन-पूजन कराया।

हनुमानगढ़ी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विराजमान हनुमान जी की आरती उतारी। मुख्यमंत्री ने खुद अपने मंत्रिमंडल के मंत्रियों को तिलक लगाया।

अयोध्या कैबिनेट बैठक से पहले हनुमान जी के दर्शन का योगी मंत्रिमंडल ने आशीर्वाद लिया। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने मंत्रियों के साथ इलेक्ट्रिक बस में सवार होकर रामजन्मभूमि परिसर पहुंचे।

योगी कैबिनेट की बैठक को देखते हुए अयोध्या में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

बता दें कि यह पहला मौका है जब यूपी सरकार अयोध्या में कैबिनेट बैठक कर रही है।

राजनीतिक जानकर बताते हैं कि अयोध्या में योगी कैबिनेट की बैठक आयोजित करने के लिए खासतौर पर 9 नवंबर की तारीख चुनी गई है क्योंकि उच्चतम न्यायालय ने वर्ष 2019 में इसी तारीख को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने वाला फैसला सुनाया था।

इसके अलावा 9 नवंबर 1989 को ही विश्व हिंदू परिषद ने अयोध्या में राम मंदिर की पहली आधारशिला रखी थी।

ज्ञात हो कि वर्ष 2019 में कुंभ मेला के दौरान प्रयागराज में मंत्रिपरिषद की बैठक की गई थी। तब मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों ने संगम में पुण्य स्नान भी किया था। इसके अलावा वाराणसी में भी कैबिनेट की बैठक हो चुकी है।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!