होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

भ्रष्टाचार की अम्मा, घटिया राजनीति की जन्मदाता है कांग्रेस – केशव प्रसाद मौर्य

  • इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने मंडल आयोग की रिपोर्ट का विरोध किया
  • मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद खुद को हिंदू बताने लगे हैं कांग्रेसी
  • कांग्रेस गरीबी हटाने की बजाय अमीरों को आगे बढ़ाया
  • भाजपा मध्यप्रदेश की सत्ता में शानदार वापसी कर रही है
  • मोदी जी ने ओबीसी आयोग बनाकर उसे संवैधानिक दर्जा दिया

भोपाल.
भगवान राम के अस्तित्व को नकारने उन्हें काल्पनिक बताने वाली कांग्रेस पार्टी के नेता चुनाव आते ही चुनावी रामभक्त और चुनावी हिंदू बन रहे हैं। कांग्रेस हमेशा से दलित, आदिवासी, पिछड़ा और गरीबों की विरोधी पार्टी रही है। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की दादी इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री रहते मंडल आयोग की रिपोर्ट को ठंडे बस्ते में डाल दिया था। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के पिता जी राजीव गांधी ने संसद में मंडल आयोग की रिपोर्ट का खड़े होकर विरोध किया था। कांग्रेस पार्टी ने ओबीसी वर्ग के कुछ कोई कार्य नहीं किया।

कांग्रेस पार्टी भ्रष्टाचार की अम्मा, घटिया राजनीति की जन्मदाता है। गरीबी हटाने का नारा देने वाली कांग्रेस पार्टी अमीरों को ही बढ़ाया है। नरेंद्र मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद ओबीसी आयोग का गठन कर उसे संवैधानिक दर्जा दिया है। यह बाद उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भोपाल स्थित भाजपा के मीडिया सेंटर में पत्रकार-वार्ता को संबोधित करते हुए कही। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि वर्ष 2014 से पहले अधिकांश कांग्रेस नेता मंदिर नहीं जाते थे। नरेंद्र मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद कांग्रेस नेता चुनावी रामभक्त और चुनावी हिंदू बन गए हैं। मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद कांग्रेस नेता भी मंदिर जाने लगे हैं और माथे पर टीका लगाने लगे हैं, यह भारतीय जनता पार्टी की वैचारिक जीत है।

कांग्रेस पार्टी तुष्टिकरण की राजनीति करती है
उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि आज मैं उत्तर प्रदेश से यहां आया हूं और आज मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा लागू की गई मुख्मयंत्री लाड़ली बहना योजना की धनराशि भी प्रदेश की एक करोड़ 31 लाख से अधिक बहनों के खाते में पहुंच रहे हैं। मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार प्रति लाड़ली बहना 1250 रूपए बैंक खाते में भेज रही है। वहीं कांग्रेस पार्टी तुष्टिकरण की राजनीति करती है। मध्यप्रदेश में गरीब कल्याण के लिए 30 लाख करोड़ रूपए डीबीटी के माध्यम से सरकार लोगों के बैंक खाते में पहुंचा चुकी है। जब राजीव गांधी जी की केंद्र में कांग्रेस सरकार थी, तब उन्होंने संसद में खड़े होकर के यह कहा था कि अगर हम दिल्ली से एक रुपए भेजते हैं, लेकिन गरीबों के पास तक सिर्फ 15 पैसा पहुंचता है। मौर्य ने कहा कि लेकिन हमें गर्व है हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी अगर 1 रूए भेजते हैं तो पूरा 1 रूपए और 30 लाख करोड़ भेजते तो पूरा 30 लाख करोड रुपए गरीबों के खाते में पहुंचता है। इससे स्पष्ट पता चलता है कि कांग्रेस पार्टी का चरित्र क्या था और भाजपा का चरित्र क्या है। मौर्य ने कहा कि भ्रष्टाचार की अम्मा है कांग्रेस पार्टी। इस देश के अंदर तुष्टिकरण की जो घटिया राजनीति है उस राजनीति की जन्मदाता है कांग्रेस पार्टी। भारतीय जनता पार्टी सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास लेकर के आगे बढ़ रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने इतने शानदार कार्य किया हैं कि कांग्रेस के लोगों के पास कोई जवाब नहीं है।

छत्तीसगढ़ व राजस्थान में भाजपा सरकार बनेगी
उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री मौर्य ने कहा कि 2014 में लोकसभा का चुनाव जीतकर केंद्र में भाजपा की सरकार बनी और नरेंद्र मोदी जी प्रधानमंत्री। मोदी जी अति पिछडे़ वर्ग से आते हैं। मोदी ही अगुवाई में मैं 2016 में उत्तर प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष बना और वहां जनवरी 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में शानदार विजय मिली और 403 सीटों में से 325 सीटें भाजपा ने जीतीं। मध्यप्रदेश में वर्षों से शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री हैं, इसके पहले उमा भारती और स्व. बाबूलाल गौर जी मुख्यमंत्री रहे। तीनों ही पिछड़ा वर्ग से आते हैं। कांग्रेस पार्टी पिछड़े वर्ग के लिए कुछ नहीं किया। कांगेस पिछड़ा ही नहीं गरीब, दलित, आदिवासियों की भी विरोधी पार्टी है। मौर्य ने कहा कि मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी विधानसभा चुनाव में शानदार सफलता पाने जा रही है। भाजपा छत्तीसगढ़ और राजस्थान विधानसभा का चुनाव जीतकर वहां भी सरकार बनाएगी। भाजपा सरकार ने एक नहीं अनेक बार सफलता के कीर्तिमान स्थापित किए हैं।

कांग्रेस नेता मंदिर जा रहे यह भाजपा की वैचारिक विजय है
मौर्य ने कहा कि आज कल कांग्रेस पार्टी पिछड़ा चालीसा पढ़ रही है। जब-जब चुनाव आता है, कांगेस पार्टी और उसके नेता पिछड़ा वर्ग, दलित और आदिवासियों के लिए बातें करने लगे हैं। चुनाव से पहले यह चुनावी राम भक्त बनते हैं, चुनावी शिव भक्त बनते हैं। 2014 से पहले कांग्रेस का कोई नेता कभी किसी मंदिर में शीश झुकाने नहीं जाता, लेकिन नरेंद्र मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद कांग्रेस नेता माथे पर टीका भी लगाने लगे हैं, मंदिर भी जाने लगे हैं, यह भारतीय जनता पार्टी की वैचारिक विजय है।

राम को काल्पनिक बताने वाले कह रहे बुलाया नहीं
मौर्य ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व वाली सरकार ने 13 करोड़ से अधिक लोगों को गरीबी की रेखा से बाहर लाने का काम किया है। करोड़ों लोगों को सरकार की विभिन्न योजनाओं से जोड़ा है। मध्यप्रदेश के लोगों का भी अयोध्या के राम मंदिर निर्माण में बहुत महत्वपूर्ण योगदान है। रामलला का भव्य मंदिर बन रहा है। 22 जनवरी को रामलला का विग्रह भव्य राम मंदिर में स्थापित होने जा रहा है। मैं कार सेवक भी रहा हूं और राम मंदिर आंदोलन का सिपाही भी। अब कांग्रेस नेता कह रहे हैं कि हमें अयोध्या में रामलला के प्राण-प्रतिष्ठा समारोह में बुलाया नहीं। राम को काल्पनित बताने वाली कांग्रेस पार्टी और उसके नेताओं ने राम भक्तों का कितना अपमान किया है, यह किसी से छिपा नहीं है। 6 दिसंबर को कलंकित ढांचा गिराये जाने के बाद तत्कालीन केंद्र की कांग्रेस सरकार ने उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार के साथ मध्यप्रदेश, राजस्थान और हिमांचल प्रदेश की भाजपा सरकारों को भी बर्खास्त कर दिया था। 2003 से पहले मध्यप्रदेश की सड़कों की यह हालत थी कि प्रयागराज से मैहर शारदा माता के दर्शन करने जब कभी मैं आता था तो सड़क मार्ग से आने की हिम्मत नहीं होती थी।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!