होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

महादेव सट्टा ऐप सहित 22 वेबसाइट पर केंद्र सरकार ने लगाया बैन

रायपुर

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की मांग पर केंद्र सरकार ने आनलाइन क्रिकेट सट्टा चलाने के लिए कुख्यात महादेव बुक आॅनलाइन सहित 22 अवैध सट्टेबाजी ऐप्स और वेबसाइटों के खिलाफ ब्लॉकिंग आदेश जारी किया है। ये सभी वेबसाइट अब बंद कर दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक्स  में लिखा कि आखिरकार केंद्र सरकार को होश आया और उसने महादेव ऐप पर बैन लगाने का फैसला किया।

पीआईबी की ओर से रविवार की रात 8.30 बजे जारी विज्ञप्ति में केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार के पास भी आईटी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत महादेव बुक ऐप की वेबसाइट को बंद करने की सिफारिश करने की शक्ति थी, लेकिन उन्होंने नहीं किया। केवल ईडी की ओर से इसे बंद करने की सिफारिश की गई थी। इसके बाद महादेव बुक और रेड्डीअन्ना, प्रिस्टोप्रो सहित 22 अवैध सट्टेबाजी ऐप्स और वेबसाइटों को ब्लॉक आदेश जारी किया है। चंद्रशेखर ने कहा, छत्तीसगढ़ सरकार महादेव बुक ऐप मामले की पिछले डेढ़ साल से जांच कर रही है, लेकिन इतने दिनों में वेबसाइट को बंद कराने की सिफारिश नहीं की थी।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक्स पर लिखा कि आखिरकार केंद्र सरकार को होश आया और उसने 'महादेव ऐपझ् पर बैन लगाने का फैसला किया। मैं कई महीनों से सवाल पूछ रहा हूं कि सट्टा खिलाने वाले इस ऐप पर केंद्र सरकार बंद क्यों नहीं रही है. मैंने तो यहां तक कहा था कि शायद 28 प्रतिशत जीएसटी के लालच में प्रतिबंध नहीं लग रहा है या फिर भाजपा का ऐप संचालकों से लेन-देन हो गया है। आश्चर्य है कि ईडी महीनों से इस मामले की जांच कर रही है और फिर भी ऐप का संचालन लगातार होता रहा।  अब केंद्र सरकार को होश आ ही गया है तो अच्छा है कि इस ऐप के संचालकों को भी दुबई से यथाशीघ्र गिरफ़्तार कर भारत लाया जाए। छत्तीसगढ़ पुलिस ने ही सबसे पहले उनके खिलाफ लुक-आउट नोटिस जारी किया था. उन्हें छत्तीसगढ़ पुलिस भी रिमांड में लेकर पूछताछ करना चाहेगी क्योंकि यहां तो सबसे पहले उनके खिलाफ मामले दर्ज हुए हैं।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!