होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

अफगानिस्तान vs ऑस्ट्रेलिया आज होंगे आमने-सामने

मुंबई.
अब जबकि वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंचने की दौड़ अपने अंतिम पड़ाव पर है तब ऑस्ट्रेलिया उलटफेर करने में माहिर अफगानिस्तान के खिलाफ मंगलवार को यहां होने वाले मैच में मिडिल ऑर्डर की अपनी कमजोरी को दूर करने की कोशिश करेगा। सेमीफाइनल में अब केवल दो स्थान बाकी बचे हैं क्योंकि भारत और दक्षिण अफ्रीका पहले ही अंतिम चार के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं।

ऑस्ट्रेलिया पॉइंट टेबल में अभी तीसरे स्थान पर
ऑस्ट्रेलिया की टीम अभी तीसरे स्थान पर है और कोई भी अन्य टीम उसकी सेमीफाइनल की सीट को सीधे चुनौती देने की स्थिति में नहीं दिख रही है, लेकिन पैट कमिंस की अगुवाई वाली टीम इस मैच में जीत दर्ज करके अंतिम चार में अपनी जगह सुरक्षित करने की कोशिश करेगी। यह मैच वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा जहां बल्लेबाजों की तूती बोलती रही है।

ऑस्ट्रेलिया और अफगानिस्तान के बीच मुकाबला रोमांचक होने की उम्मीद
अगर गेंदबाज भी परिस्थितियों का फायदा उठाने में सक्षम हों तो उनके लिए भी यहां का विकेट मददगार है। अफगानिस्तान के पास कुशल स्पिनर हैं और उसके बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के आक्रमण के सामने अच्छा प्रदर्शन करने के लिए बेताब होंगे। ऐसे में यह मुकाबला रोमांचक हो सकता है। ऑस्ट्रेलिया के पास भी एडम जंपा के रूप में अनुभवी स्पिनर है जिन्होंने वर्ल्ड कप में अभी तक सर्वाधिक 19 विकेट लिए हैं।

ऑस्ट्रेलिया जीत दर्ज कर सेमीफाइनल में जगह पक्की करना चाहेगा
ऑस्ट्रेलिया को अपने बाकी बचे दो मैच अफगानिस्तान और बांग्लादेश के खिलाफ खेलने हैं लेकिन वह इनमें से पहले मैच में ही जीत दर्ज करके सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली तीसरी टीम बनना चाहेगा। पांच बार के वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया की अपनी कुछ समस्याएं हैं जिनमें मध्यक्रम के बल्लेबाजों का लचर प्रदर्शन भी शामिल है। उसकी टीम ने हालांकि लगातार पांच मैच जीते हैं जिससे खिलाड़ियों का आत्मविश्वास बढ़ा होगा।

मिडिल ऑर्डर की कमजोरी दूर करने उतरेगा ऑस्ट्रेलिया
स्टीव स्मिथ और मार्नस लाबुशेन को वनडे में दिग्गज खिलाड़ी नहीं माना जाता है लेकिन इन दोनों ने अभी तक सात मैच में केवल तीन अर्धशतक लगाए हैं तथा तीसरे और चौथे नंबर के बल्लेबाज का इस तरह का प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया के लिए चिंता का विषय होगा।

शीर्ष क्रम में डेविड वार्नर ने अभी तक अच्छा प्रदर्शन किया है। उनके नाम पर सात मैच में दो शतकों की मदद से 428 रन दर्ज हैं। ट्रेविस हेड ने भी दो मैच में 120 रन बनाए हैं और ऑस्ट्रेलिया को उनसे तेज शुरुआत की उम्मीद होगी। मिशेल मार्श की वापसी के बाद ऑस्ट्रेलिया के पास कैमरन ग्रीन की जगह उन्हें उतारने का विकल्प भी मौजूद है।

अफगानिस्तान उलटफेर करने में माहिर
अफगानिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अभी तक जो तीन वनडे मैच खेले हैं उनमें उसे हार का सामना करना पड़ा लेकिन पिछले पांच में से चार मैच जीतने के कारण उसकी टीम का भी मनोबल बढ़ा हुआ है। अफगानिस्तान को हालांकि अपने अगले दो मैच में नेट रन रेट पर भी ध्यान देना होगा। कप्तान हशमतुल्लाह शाहिदी (282 रन), रहमत शाह (264) अजमतुल्लाह उमरजई (234), रहमानुल्लाह गुरबाज़ (234) और इब्राहिम जादरान (232) ने बल्लेबाजी में जो निरंतरता दिखाई है उससे अफगानिस्तान लक्ष्य का पीछा करते हुए लगातार तीन मैच जीतने में सफल रहा लेकिन ऑस्ट्रेलिया का सामना करना अलग तरह की चुनौती होगी।

ऑस्ट्रेलिया की टीम
पैट कमिंस (कप्तान), स्टीव स्मिथ, मार्नस लाबुशेन, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), जोश इंगलिस (विकेटकीपर), सीन एबॉट, एश्टन एगर, कैमरन ग्रीन, जोश हेजलवुड, ट्रैविस हेड, मिच मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, मार्कस स्टोइनिस, डेविड वार्नर, एडम ज़म्पा, मिचेल स्टार्क।

अफगानिस्तान की टीम
हशमतुल्लाह शाहिदी (कप्तान), रहमानुल्लाह गुरबाज (विकेटकीपर), इब्राहिम जादरान, रियाज हसन, रहमत शाह, नजीबुल्लाह जादरान, मोहम्मद नबी, इकराम अलीखिल (विकेटकीपर), अजमतुल्ला उमरजई, राशिद खान, मुजीब उर रहमान, नूर अहमद, फजलहक फारूकी , अब्दुल रहमान, नवीन उल हक।
मैच भारतीय समयानुसार दोपहर दो बजे से शुरू होगा।

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!